PM Fasal Bima Yojana 2024: पीएम फसल बीमा योजना से होगी खराब फसलों की भरपाई, जानें कैसे करें अपना आवेदन

Robin Hood
6 Min Read
PM Fasal Bima Yojana 2024

PM Fasal Bima Yojana 2024: किसानों के लिए सरकार की तरफ से बहुत सारी योजनाओं की शुरुआत की जाती है, जिससे कि किसानों को फायदा हो सके। अगर आप भी एक किसान है, तो आपके लिए एक बहुत ही अच्छी खबर है। प्रधानमंत्री की तरफ से पीएम फसल बीमा योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के माध्यम से अगर आपका फसल किसी भी प्रकृति आपदा के कारण खराब हो जाता है, तो सरकार के द्वारा आपको फसल बीमा दिया जाता है।

सरकार द्वारा शुरू किए गए इस योजना के माध्यम से किसानों को बहुत ही कम प्रीमियम पर बीमा का लाभ दिया जाता है। अगर आप भी इस योजना से संबंधित अधिक जानकारी लेना चाहते हैं, तो आपको इस पोस्ट को पूरा पढ़ना होगा। केंद्र सरकार की तरफ से शुरू की गई इस योजना के तहत देश में रहने वाले किसानों को कृषि संबंधित यदि कोई नुकसान का सामना करना पड़ता है, तो ऐसे समय में सरकार उनकी आर्थिक रूप से सहायता करती है।

जिस प्रकार से लोगों का बीमा कराया जाता है ठीक उसी प्रकार से बहुत ही कम प्रीमियम पर लोगों को अपने फसल की बीमा करवानी होती है, उसके बाद अगर आपका फसल किसी प्राकृतिक आपदा जैसे की बाढ़, भारी सुखार के कारण नष्ट हो जाता है तो ऐसे वक्त में सरकार की तरफ से इस योजना के तहत अनुदान राशि दी जाती है। नीचे दिए गए पोस्ट में मैं आपको इससे जुड़ी सभी जानकारी विस्तार से बताने वाला हूं, अतः आप इस पोस्ट को पूरा अवश्य पढ़ें। PM Fasal Bima Yojana 2024

यह भी पढ़े 

PM Fasal Bima Yojana 2024
PM Fasal Bima Yojana 2024

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2024

सरकार की तरफ से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के तहत देश में रहने वाले प्रत्येक किसानों को लाभ दिया जाएगा। किसानों का फसल यदि किसी बाढ़ बारिश सुख या फिर किसी प्राकृतिक आपदा से नष्ट हो जाता है, तो उसे स्थिति में लाभ दिया जाता है। यह योजना खास तौर पर उन किसानों के लिए चलाई जा रही है, जो की कृषि कार्य के लिए लोन लेते हैं और ऐसे वक्त में उनका फसल खराब हो जाता है, तो सरकार की तरफ से अनुदान की राशि दी जाती है ताकि वह अपने सभी पैसों की भरपाई कर सके। PM Fasal Bima Yojana 2024

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2024 लाभ

इस योजना के तहत प्रकृति आपदा के कारण फसल नुकसान का पूरा बीमा दिया जाता है। किसानों को खेती करने के लिए सरकार की तरफ से प्रोत्साहित किया जाता है। इसके लिए 24 घंटे हेल्पलाइन की सुविधा दी गई है। बीमा बहुत ही कम प्रीमियम राशि पर किसानों को दिया जाता है। PM Fasal Bima Yojana 2024

केवल इन फसलों के लिए मिलेगा लाभ

वैसे किसान जो कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत लाभ लेना चाहते हैं, तो फिर नीचे बताए गए फसलों के लिए ही लाभ प्राप्त कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त यदि कोई फसल है तो आपको इसके लिए बीमा राशि नहीं दी जाएगी सरकार की तरफ से इन फसलों पर बीमा राशि दी जाएगी। PM Fasal Bima Yojana 2024

  • धान, गेंहू, बाजरा
  • कपास, गन्ना, जुट
  • चना, मटर, अरहर, मशहूर, मूंग, सोयाबीन, उड़द, लोबिया
  • तिल, सरसों, एंडी, मूँगफली, बिनौला, सूरजमुखी, तोरिया, कुसुम, अलसी, नाइजर सिड़स
  • केला, अंगूर, आलू, प्याज़, अदरक, इलायची, हल्दी, सेब, आम, संतरा, अमरूद, लीची, पपीता, अनानास, चीकू, टमाटर, मटर, फूलगोभी

PM Fasal Bima Yojana Documents

  • आधार कार्ड
  • बैंक पासबुक
  • निवास प्रमाण पत्र
  • खसरा संख्या
  • जमीन का रकबा
  • चालू मोबाइल नंबर

How to Apply Online For PM Fasal Bima Yojana 2024

  • अगर आप भी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको इसके ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके होम पेज में आपको फार्मर कॉर्नर के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा, जहां आपको गेस्ट फार्मर कॉर्नर के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करने के बाद आपकी स्क्रीन पर एक आवेदन फार्म खुलकर आ जाएगा, जिसे आपको ध्यान से सही-सही भरना होगा।
  • उसके बाद मांगे जाने वाले सभी आवश्यक दस्तावेजों को स्कैन करके अपलोड कर देना होगा।
  • अंत में आपको फाइनल सबमिट के विकल्प पर क्लिक करके प्राप्त रसीद का प्रिंट आउट निकाल कर अपने पास रख लेना होगा।

सारांश

मैं आशा करता हूँ की आपको मेरी यह जानकारी PM Fasal Bima Yojana 2024 पसंद आई होगी | अगर आपको मेरी यह जानकारी PM Fasal Bima Yojana 2024 पसंद आई हैं तो आप इसे लाइक करे और अपने दोस्तों, फॅमिली और ग्रुप में जरुर शेयर करे ताकि उन्हें भी इसकी जानकारी मिल सके |

धन्यवाद !!!

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *