CBSE Exam Pattern: CBSE बोर्ड ने बदला एग्जाम पैर्टन, जाने कैसे आयेगा अब क्वेश्चन पेपर? यहाँ से देखे पूरी जानकारी

Robin Hood
6 Min Read
CBSE Exam Pattern

CBSE Exam Pattern: हमारे वैसे सभी विद्यार्थी जो की सीबीएसई बोर्ड में नवमी और12वीं कक्षा के विद्यार्थी है और अपनी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तो मैं उन सभी छात्रों को यह बता दूंगी सीबीएसई बोर्ड की तरफ से कक्षा नवमी से लेकर 12वीं तक के छात्रों के एग्जाम पैटर्न को लेकर बड़ा बदलाव किया गया है।

इस पोस्ट के माध्यम से मैं आपको विस्तार पूर्वक सीबीएसई की तरफ से ले गए नए एग्जाम पैटर्न के बारे में पूरी रिपोर्ट बताने जा रहे हैं। इसकी पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको इस पोस्ट को पूरा पढ़ना होगा। इस पोस्ट के माध्यम से मैं आपको सीबीएसई एग्जाम पैटर्न से जुड़े सभी जानकारी विस्तार से बताने वाला हूं। इसके लिए आपको हमारे साथ बने रहना होगा ताकि आप पूरी-पूरी जानकारी का लाभ प्राप्त कर सके। CBSE Exam Pattern

यह भी पढ़े

CBSE Exam Pattern
CBSE Exam Pattern

CBSE Exam Pattern

सीबीएसई बोर्ड की तरफ से वैसे सभी स्टूडेंट जो की कक्षा नवमी से लेकर 12वीं तक की पढ़ाई कर रहे हैं, उन सभी छात्रों के लिए बोर्ड की तरफ से बड़ी अपडेट को जारी किया गया है। जिसके अनुसार सिलेबस के पूरे एग्जाम पैटर्न को बदल दिया गया है। इसके तहत अब आगामी परीक्षा में स्टूडेंट को जो प्रश्न पत्र मिलेगा, वह नए पैटर्न के अनुसार दिया जाएगा। इसके लिए आप सभी विद्यार्थी को पहले से तैयार रहना होगा और इसलिए मैं आपको इस पोस्ट के माध्यम से सीबीएसई एग्जाम पैटर्न से जुड़ी सभी जानकारी विस्तार से बताने जा रहे हैं। CBSE Exam Pattern

CBSE Exam Pattern इन कक्षा के एग्जाम पैर्टन मे होगा बदलाव

यहां पर मैं आप सभी विद्यार्थी को यह बता दूं कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के अनुसार मूल्यांकन प्रणाली में बदलाव लाने के लिए ही सीबीएसई बोर्ड की तरफ से कक्षा नवमी से लेकर कक्षा 12वीं तक के छात्रों के लिए एग्जाम पैटर्न में पड़ा बदलाव किया गया है। इसके तहत सीबीएसई बोर्ड में यह दावा किया है कि इस नए एग्जाम पैटर्न के बाद हमारे सभी स्टूडेंट को परीक्षा पास करने के लिए रट्टा लगाने अर्थात याद करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी और रट्टा लगाने की उनकी जो आदत है, वह भी जड़ से खत्म हो जाएगा ताकि हमारे सभी विद्यार्थी स्वाभाविक तौर पर सीख व समझ सके। CBSE Exam Pattern

कक्षा 9वीं व 10वीं के एग्जाम पैर्टन मे बदलाव

सीबीएसई बोर्ड की तरफ से कक्षा नवमी व दसवीं के विद्यार्थियों के लिए एग्जाम पैटर्न में किए गए बदलाव के बारे में मैं आपको बताने जा रहा हूं। इसके प्रमुख बिंदु इस प्रकार से है-

  • सीबीएसई बोर्ड की तरफ से कक्षा 9 और दसवीं की जो थिअरी एक्जाम पेटर्न है उसको लेकर किसी प्रकार का कोई भी बदलाव नहीं किया गया है।
  • बोर्ड की तरफ से अपने ऑफिशल नोटिस के माध्यम से साफ तौर पर यह जानकारी दे दी गई है कि बोर्ड का मुख्य उद्देश्य रट्टा लगाने वाली शिक्षा प्रणाली को खत्म करना है ताकि छात्रों में 21 वी सदी की चुनौतियों से निपटने के लिए रचनात्मक आलोचनात्मक और व्यवस्थित सोच विकसित करने वाली शिक्षा को बढ़ावा दिया जा सके।

कक्षा 11वीं व 12वीं के एग्जाम पैर्टन मे बदलाव

11वीं और 12वीं कक्षा के परीक्षार्थियों के लिए परीक्षा पैटर्न में क्या बदलाव किए गए हैं उसके बारे में मैं आपको यहां बताने जा रहा हूं, जो कि इस प्रकार से है-

  • बोर्ड की तरफ से एग्जाम पैटर्न में किए गए बदलावों के माध्यम से बच्चों के विश्लेषणात्मक क्षमता को बढ़ाने के लिए बोर्ड की तरफ से सवालों की संख्या में वृद्धि की गई है।
  • विद्यार्थी रट्टा लगाकर पढ़ाई ना कर सके और उनकी रट्टा लगने की आदत को खत्म किया जा सके। इसके लिए बोर्ड ने नॉलेज बेस्ड क्वेश्चन की संख्या को कम कर दिया है।
  • दूसरी तरफ अगर हम आप सभी को यह बताएं की बोर्ड ने 11वीं और 12वीं कक्षा की परीक्षाओं में बहुविकल्पीय प्रश्न केस स्टडी पर आधारित प्रश्न सोर्स बेस्ड इंटीग्रेटेड सवाल या इसी तरह से अन्य सवालों का संख्या 40% से बढ़कर 50% कर दिया है।
  • इसके साथ ही साथ में आपको यह बता दूं कि पारंपरिक परीक्षा पैटर्न वाले लघु उत्तरीय उत्तर दिए प्रश्नों की संख्या 2024-25 शैक्षणिक सत्र में 40% से घटकर 30% कर दिया गया है।
  • अंत में मैं आप सभी छात्रों को यह बता दूं कि रिस्पांस टाइप क्वेश्चन की संख्या पहले की तरह ही 20% रखा गया है।

सारांश

मैं आशा करता हूँ की आपको मेरी यह जानकारी CBSE Exam Pattern पसंद आई होगी | अगर आपको मेरी यह जानकारी CBSE Exam Pattern पसंद आई हैं तो आप इसे लाइक करे और अपने दोस्तों, फॅमिली और ग्रुप में जरुर शेयर करे ताकि उन्हें भी इसकी जानकारी मिल सके |

धन्यवाद !!!

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *